Welcome to Shiv Shakti Sanstha

नर सेवा ही नारायण सेवा  ऐसा शास्त्र का मूढ़  रहस्य है । ईश्वर साक्षात मानव रूप क अंश है, विभिन्नता में एकता राष्ट्रीय सूत्र है । आज हम दिशा शून्य भ्रमित और अपने ही स्वार्थ परायणता से लिपटे है । जबकि मानव कर्तव्य, धर्म, भावना, से अति दूर भर रहा है, केवल अपनी जिहवा में सुन्दर शब्द अलंकृत हो रहे है, किन्तु वास्तव में इसके भावार्थ कर्तव्यता से विमुख से Right of Constitution  से विप्रियत दिशा से राष्ट्र जा रहा है । जब राष्ट्र भक्तो का संदेश उनके अधूरे कार्य को पूरा करने का दिव्या स्वप्न आज साकार करना लक्ष्य  है । लक्ष्य बिना मनुष्य  जीवन अधूरा है धर्म और राष्ट्र एक दूसरे क पर्याय है । धर्म अधीन कर्म कर्त्तव्यता से निभाने पर वह ईश्वरीय कार्य बन जाता है। शिव शक्ति संस्था सम्पूर्ण वव्यस्था, आध्यात्मिक, सामाजिक, राजनैतिक, व्यापार, शिक्षा, सूचना का अधिकार, मानवाधिकार, सहकारिता, इत्यादि विषयो को लेकर एक मंच के नीचे समग्र वव्यस्था करने का प्रण करके समाज सम्पूर्ण विकास वृद्धि, प्रगति, आत्मसम्मान, बढ़ने हेतु कार्य कर रहा है , अब आप सबसे अभिलाषा रखता हूँ की आप भी अपना अमूल्य जीवन राष्ट्रीय में दे ताकि देश पुनः अपनी गरिमा को प्राप्त करे । आप इसके सदस्य बनकर प्रत्यक्ष या परोक्ष तन-मन-धन से सहयकृत बने और सहानभूति से सहकर करके संस्कारिता, व्यसन रहित राष्ट्र का निर्माण कर सकेंगे।

हमारे प्रकल्प

  1. सोसाइटी का मुख्य उद्देश्य शिव शक्ति करुणा मइया आश्रम महाकाली मंदिर साढौरा नदीपर रोज़ा पीर साढौरा में स्थित का विकास करना, साफ सफाई रखना, आये हुए भक्तो का विशेष ध्यान रखना।
  2. डॉ भीमराव अम्बेडकर की प्रेरणा देना समाज उत्थान के लिए कार्य करना।
  3. समाज के दबे कुचले लोगो का मार्ग दर्शन करना।
  4. डॉ भीमराव अम्बेडकर जी क आदेशों पर चलने की शिक्षा देना।
  5. समाज में उत्पन्न बुरइयो को समाप्त करने क लिए हर संभव प्रयास करना तथा लोगो को बुरइयो से होने वाले नुकसान के प्रति जागरूक करना।
  6. समय समय पर समाज क उत्थान के लिए धार्मिक समारोह करना।
  7. सरकार द्वारा चलायी गयी कल्याणकारी योजनओं से लाभान्वित के लिए अवगत करना |
  8. सोसाइटी क हित के लिए सरकार, बैंक व अन्य किसी संसथान से राशि प्राप्त करना।
  9. शिक्षा केंद्र, सिलाई-कढ़ई केंद्र, ब्यूटिशियन, कंप्यूटर केंद्र, औषधलय केंद्र, अनाथलय, गुरुकुल एवं वृद्धाश्रम आदि खोलना व उनका संचालन करना ।
  10. गरीब परिवारों की लड़कियों की शादी में सहयोग देना ।
  11. संस्था का किसी नजदीकी बैंक शाखा में  सहयोग देना।
  12. खता खोलना व उनका संचालन करना  ।
  13. पेड़-पौधे लगाने क लिए लोगो को जागरूक  करना  एवं स्वछता अभियान के अंतर्गत सफाई रखने की शिक्षा देना।
  14. गरीब व कमजोर वर्ग की कन्याओ की शादी करना ।
  15. कन्या भ्रूण हत्या, बल विवाह, दहेज़ प्रथा एवं नशामुक्ति जैसी सामाजिक बुरइयो को समाप्त करने के लिए लोगो को अवगत करना ।
  16. किसी सरकारी / अर्ध-सरकारी / निजी कोष से सोसाइटी हिट क लिए अनुदान राशि  प्राप्त करना |
  17. निःशुल्क चिकित्सा शिविर आयोजित करवाना |
  18. विकास संस्कृति संस्कार समृद्धि शिक्षाचार, सदाचार, सबके साथ एक ही व्यवहार, हर प्रदेश हर क्षेत्र में हमारा यही उद्देश्य है|

 जय हिन्दू राष्ट्र

योगी बाबा यशपाल नाथ   संस्थापक एवं राष्ट्रीय अध्यक्ष

Parent’s Speak

Parent’s Speak

 As parents we always try to give the best to our children. For us, the best school is the one where our kids love to go, the school where our children learn inclusiveness,  

News & Event

This is demo News

This is demo News Read more..

Our Location